Ek Maa k jhuth ne itihas rach diya
Story

एक माँ के झूठ ने इतिहास रच दिया (THOMAS ALVA EDISON)

एक झूठ ने इतिहास रच दिया (THOMAS ALVA EDISON)

दोस्तों, दुनिया में सभी लोग कभी न कभी झूठ बोलते है,,, कोई अपने लिए झूठ बोलता है तो कोई दूसरों के लिए झूठ बोलता है।
खुद के लिए बोले गए झूठ से हमारा नुकसान ही होता है,,, लेकिन दूसरों के लिए बोला गया झूठ कई बार बहुत अच्छा साबित
होता है। कई बार हमारे माता पिता भी हमारे लिए झूठ बोलते है ताकि हमें तकलीफ न हो,, लेकिन उस झूठ से फायदा होता है
या नुकसान ये तो समय ही बताता है।
हम आपके साथ एक कहानी शेयर करने जा रहे है, जिसे पढ़कर आपको खुद ही पता चल जायेगा कि कई जगह
पर झूठ बोलना सच बोलने से ज़्यादा बेहतर होता है।

Ek Maa k jhuth ne itihas rach diya

एक दिन थॉमस एडिसन खेलते खेलते अपने स्कूल से घर आया और सबसे पहले अपनी माँ को ढूंढने लगा।
माँ के सामने जाकर स्कूल बेग खोलकर,,, उसमें से एक लेटर निकाला और देते हुए कहा –
कि यह लेटर मुझे मेरी टीचर ने दिया है और बोला था कि घर जाकर अपनी माँ को दे देना।

उसकी माँ ने लेटर खोला और पढ़ा, पढ़ने के साथ ही वो रोने लगी।
बच्चा खड़े-खड़े सब देख रहा था,,,
और उसने पूछा कि क्या हुआ माँ..?? क्या लिखा उस लेटर में..??

तब माँ तेज आवाज़ में लेटर पढ़ते हुए बोली,,,
‘आपका बेटा बहुत ही प्रतिभाशाली है यह विद्यालय उसकी प्रतिभा के आगे बहुत छोटा है,
उसे और बेहतर शिक्षा देने के लिए हमारे पास इतने काबिल शिक्षक नहीं है,,
इसलिए आप उसे खुद पढ़ाये या हमारे स्कूल से भी अच्छे स्कूल में पढ़ने के लिए भेजे।’

ये सब सुनने के बाद एडिसन अपने आप पर गर्व करने लगा और माँ के देखरेख में
अपनी पढ़ाई करने लगा।

Ek Maa k jhuth ne itihas rach diya

कुछ सालों बाद जब एडिसन की माँ गुजर चुकी थी और वो एक बहुत ही बड़ा वैज्ञानिक बन गया था।
एक दिन वो घर में कुछ पुरानी चीज ढूंढ रहा था,, और अचानक उसकी नजर एक पुराने लेटर पर पड़ी।

लेटर उठाकर खोला और पढ़ा उसमें लिखा था कि ‘आपका बेटा मानसिक रूप से बीमार है जिससे उसकी
आगे की पढ़ाई इस स्कूल में नहीं हो सकती, इसलिए उसे अब स्कूल से निकाला जा रहा है’

ये वो ही लेटर था जो टीचर ने बरसों पहले उसकी माँ को दिया था। यह पढ़कर वो कुछ एकाद घंटे
तक रोता रहा और खुद की डायरी में लिखा कि थॉमस अल्वा एडिसन बहुत ही कमजोर बच्चा था
पर एक सही माँ ने नायक की भूमिका निभाई और उस कमजोर बच्चे को सदी का सबसे होनहार
इंसान बनाया।

अगर आपको यह कहानी पसंद आयी हो तो Share  और  Comment करना न भूलें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *