World Forestry Day
National and International Days

21st March : World Forestry Day (विश्व वानिकी दिवस)

21st March : World Forestry Day (विश्व वानिकी दिवस)

विश्व वानिकी दिवस हर साल 21 मार्च को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत भारत में सबसे पहले गृहमंत्री कुलपीत कन्हैयालाल माणिकलाल मुंशी ने की थी। सबसे पहले इसे 1971 में मनाया गया फिर 1950 से मनोत्सव के रूप में मनाया जाने लगा। इसको मनाने का मुख्य उद्देश्य था कि सभी देशवासियों को अपनी मातृभूमि की कद्र और उसको लेकर सबके दिल में जागरूकता आए कि हमारी मातृभूमि की मिट्टी उनके लिए एक मामूली चीज़ ना होकर के अमूल्य है। उनके जंगल और वन सम्पदा कितने महत्त्वपूर्ण है।
World Forestry Day
वन हमारे जीवन में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते है। वनों पर समस्त मानव जीवन निर्भर करता है। लेकिन इनको प्रतिदिन काटे जाने से इनकी संख्या तो कम हो ही रही है साथ ही साथ प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। जिससे कि अनेकों प्रकार की बीमारियां फैलती जा रही है। वन वायुमंडल में मौजूद कार्बनडाई ऑक्साइड को ग्रहण करते है और ऑक्सीजन को छोड़ते है जो कि मानव जीवन के लिए अहम है। इसके साथ-साथ हमारे दैनिक जीवन में प्रयोग  होने वाली बहुत सी वस्तुएं हमें पेड़ों से ही मिलती है। इसलिए हमें इनकी संख्या को कम करने के बजाय बढ़ाना चाहिए।
World Forestry Day
मनुष्य एक ऐसा जीव है, जो पेड़ काटता है,
उसका कागज़ बनाता है, और उन्हीं कागज़ों पर लिखता है,
“पेड़ बचाओ”
प्रसिद्ध पर्यावरणविद के कहने के अनुसार वृक्षों का अर्थ है जल, जल का अर्थ है रोटी और रोटी ही जीवन है।  इससे हमें समझना चाहिए कि जिस पर्यावरण में हम रहते है उसको स्वस्थ रखने का मतलब है अपने अस्तित्व अपने जीवन को बचाना।
0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!